गांव की सबसे पहली पंचायत १९५२ में बनी जिसके सरपंच श्री रामजी लाल थे| जो की एक पंजाबी परिवार से सम्बन्ध रखते थे, उनके बाद श्री शिव नारायण जी ने पंचायत का कार्यभार संभाला| More »

गांव की सबसे पहली पंचायत १९५२ में बनी जिसके सरपंच श्री रामजी लाल थे| जो की एक पंजाबी परिवार से सम्बन्ध रखते थे, उनके बाद श्री शिव नारायण जी ने पंचायत का कार्यभार संभाला| More »

 

पंचायत का इतिहास

गांव की सबसे पहली पंचायत १९५२ में बनी जिसके सरपंच श्री रामजी लाल थे| जो की एक पंजाबी परिवार से सम्बन्ध रखते थे, उनके बाद श्री शिव नारायण जी ने पंचायत का कार्यभार संभाला| शिव नारायण जी के बाद श्री दयानन्द, श्री रघुबीर सिंह, श्री होसियार सिंह, श्री इश्वर सिंह, श्री मति चंद्र वती, गन के सरपंच रहे| गांव के वर्तमान सरपंच श्री धीर सिंह पुत्र श्री जगदीस सिंह जी हैं|